Vivo का मालिक कौन है? विवो किस देश की कंपनी है?

दोस्तों आपने विवो कंपनी के बारे में तो जरूर सुना होगा, इस आर्टिकल में मैं आपको विवो कंपनी के बारे में डिटेल में जानकारी दूंगा, कि वीवो किस देश की कंपनी है? और Vivo का मालिक कौन है? दोस्तों आपको भी पता होगा कि विवो के मोबाइल भारतीय बाजार में छाए हुए हैं, विवो हर मोबाइल में नए-नए फीचर्स लेकर आता है, और विवो के मोबाइल कस्टमर्स को बहुत लुभाते हैं, यहां तक कि विवो का कोई भी नया मोबाइल लांच होते ही आउट ऑफ स्टॉक तक हो जाता है, यानी कि विवो के स्मार्टफोंस की मार्केट में बहुत मांग ज्यादा है, आइए दोस्तों विवो कंपनी के बारे में डिटेल में जानकारी लेते हैं।

Vivo-ka-malik-kaun-hai

Vivo कंपनी की शुरुआत कैसे हुई Vivo Ka Malik Kon Hai?

दोस्तों विवो कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी एक चाइनीस कंपनी है, यह कंपनी स्मार्टफोंस बनाती है, और इसी के साथ साथ स्मार्टफोन की एक्सेसरीज अन्य हार्डवेयर पार्ट्स और बहुत प्रकार के सॉफ्टवेयर भी बनाती है, इस कंपनी की पैरंट कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स है, यह एक चाइनीस कंपनी है, बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के अंडर रियलमि और वनप्लस जैसी बड़ी-बड़ी कंपनियां भी आती है, यानी कि विवो कंपनी की मूल कंपनी का नाम बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स है

दोस्तों जब विवो की पैरंट कंपनी BBK इलेक्ट्रॉनिक्स है, तो इसका मतलब है कि विवो कंपनी का मालिकाना हक बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के पास है, तो जो भी कोई बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स का मालिक है, वह विवो कंपनी का भी मालिक हुआ, आइए दोस्तों बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के बारे में पूरी जानकारी लेते हैं, और देख लेते हैं कि बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स का मालिक कौन है।

दोस्तों विवो कंपनी की स्थापना 2009 में हुई थी विवो कंपनी की मूल कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स है, विवो कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स की एक शाखा के रूप में काम करती है, BBK Electronics पहले सॉफ्टवेयर निर्माण का कार्य करती थी, पहले विवो ऐप्स स्टोर नाम से बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स का स्टोर हुआ करता था, जो एंड्रॉयड आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता था, विवो ने फनटच भी डिजाइन किया है यह ऑपरेटिंग सिस्टम विवो की पैरंट कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स द्वारा विकसित किया गया है, यानी कि फनटच जो विवो कंपनी इस्तेमाल करती है उसका मालिकाना हक बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के पास है।

दोस्तों विवो कंपनी ने 2014 से चाइना, भारत, मलेशिया और थाईलैंड के बाजारों में बहुत तेजी से वृद्धि की है, और अन्य एशियाई देशों जैसे कि पाकिस्तान में यह कंपनी 2017 से चलती आ रही है, और स्मार्टफोन बनाने के मामले में बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है, 2016 में विवो कंपनी ने स्मार्टफोन उत्पादन के अनुसार विश्व में छठे नंबर का स्थान हासिल कर लिया था, यानी कि विवो कंपनी विश्व की छठी सबसे ज्यादा स्मार्टफोन बनाने और बेचने वाली कंपनी बन गई थी।

Vivo कंपनी का मालिक कौन है? Vivo Ka Malik Kon Hai?

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया विवो कंपनी का मालिकाना हक बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के पास है, और बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स ही विवो के सभी दिशा निर्देशन का कार्य भी करती है।

दुआन योंगपिंग बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के मालिक हैं, और दुआन योंगपिंग वर्तमान में बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के चेयरमैन भी है, चेयरमैन कंपनी के सबसे ऊपर वाले आदमी यानि की मालिक को कहा जाता है, चेयरमैन के हाथ में ही दिशा निर्देशन यानी कि डिसीजन मेकिंग का काम होता है, इन्होंने 1998 में BBK कंपनी बनाई थी, BBK कंपनी के पास फिलहाल चार बड़े ब्रांड है, Vivo जिनमें से एक है।

सुबोध इलेक्ट्रॉनिक्स इंडस्ट्री कॉरपोरेशन के मालिक भी दुआन योंगपिंग है, यह कंपनी भी BBK इलेक्ट्रॉनिक्स जितनी ही बड़ी है, दुआन योंगपिंग की कुल संपत्ति डेढ़ अरब US डॉलर है, दुआन योंगपिंग अपनी निजी जिंदगी के साथ छेड़छाड़ पसंद नहीं करते, इसलिए उनके बारे में ज्यादा जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है, लेकिन ऐसा कहा जाता है कि वह 40 साल की उम्र में ही अपनी कंपनी को कैलिफोर्निया शिफ्ट करना चाहते थे, जैसा कि एप्पल ने किया था, लेकिन वह यह नहीं कर सके।

विवो कीस देश की कंपनी है?

तो यदि आपको नहीं पता की आपऔर हम जो विवो मोबाइल का इस्तेमाल करते है या Vivo के कोई भी Products Use करते है ये विवो कंपनी किस देश की है तो इसका सीधा सा जवाब है Vivo एक चाइना की कंपनी है। और Vivo कंपनी चाइना के Dongguan सिटी में मजूद है।

VIVO कम्पनी का मुख्यालय कहां है?

दोस्तों विवो कंपनी में 10,000 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं, और विवो की पैरंट कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स का हेड क्वार्टर चाइना में गुआंगडोंग के पास डोंग्गुआन में स्थित है

India में Vivo का मुख्यालय कहां है?

दोस्तों की वह कंपनी ने लगभग 2012 से ही भारतीय बाजार में अपने स्मार्टफोन लॉन्च करने शुरू कर दिए थे, भारत में विवो कंपनी शुरुआत में कुछ खास है तरक्की नहीं कर पाई थी, लेकिन 2014 के बाद इसने बहुत तेजी से अपने कदम पसारे।

दोस्तों भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के ग्रेटर नोएडा शहर में कंपनी का हेड क्वार्टर है, यहां पर कंपनी अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट भी स्थापित करने जा रही है, जिसके बाद इंडिया में Vivo के स्मार्टफोन कुछ सस्ते दामों पर मिलने शुरू हो जाएंगे, विवो कंपनी अपनी सेल्फी स्मार्टफोंस के लिए जानी जाती है, बहुत ही जल्दी विवो कंपनी अपने कई प्रकार के स्मार्टफोन इंडिया में लॉन्च करने वाली है, Vivo कंपनी ने ऐलान किया है कि इन स्मार्टफोंस में बिल्कुल नए प्रकार की टेक्नोलॉजी होगी और यह स्मार्टफोन पूरी तरह से मेड इन इंडिया होंगे।

Vivo के सीईओ (CEO) कौन है?

शेन वेई विवो कंपनी के सीईओ कहे जाते हैं, यह चाइना में स्थित कंपनी के हेड क्वार्टर और बाकी जगहों वाली कंपनियों के भी सीईओ माने जाते हैं, जहां तक बात है कंपनी के सीएमओ की तो इंडिया विवो कंपनी के हेड क्वार्टर के सीएमओ जेरोम चेन है,सीएमओ का मतलब चीफ मार्केटिंग ऑफिसर होता है कंपनी के हेड क्वार्टर में सीईओ के बाद इन्हीं का नाम होता है और डिसीजन मेकिंग में भी काफी बड़ा हाथ होता है।

वीवो कम्पनी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य?

दोस्तों विवो कंपनी के बारे में तो हमने सब कुछ जान लिया है, आइए अब विवो कंपनी से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में देख लेते हैं।

  • दोस्तों भारत में आईपीएल बहुत मशहूर है, भारतीय आईपीएल 2013 को विवो कंपनी ने ही स्पॉन्सर किया था, और तब विवो कंपनी 396 करोड रुपए की बोली लगाई थी, इससे पहले डीएलएफ के पास 2008 से 2012 तक टूर्नामेंट में सबसे महंगे प्रायोजक बनने के लिए 200 करोड रुपए का भुगतान किया गया था, जोकि vivo द्वारा किया गया भुगतान इससे कई गुना ज्यादा था।
  • दोस्तों वीवो कंपनी ने स्मार्टफोन की मार्केट में म्यूजिक स्मार्टफोन से कदम रखा था, यानी कि सबसे पहले वीवो कंपनी ने अपने स्मार्टफोंस को यह कह कर बेचा था कि वे स्मार्टफोन सबसे अच्छे म्यूजिकल स्मार्टफोन है, और ऐसा था भी विवो कंपनी ही एक ऐसी कंपनी थी जिसने 2014 में सबसे ज्यादा म्यूजिकल स्मार्टफोन बेचे थे।
  • भारत में विवो कंपनी ने अपने सबसे महंगे फोन यानि की फ्लैगशिप सीरीज लॉन्च की है।
  • इनमें Vivo X60 Pro+ और Vivo X60 Pro भी शामिल हैं।
  • Vivo X60 Pro जो कि एक 5G स्मार्टफोन है, और इसकी कीमत ₹50000 रखी गई है, और इसी के साथ साथ Vivo X60 Pro Plus भी एक 5G स्मार्टफोन है, और इसकी कीमत इस से ₹20000 ज्यादा यानी कि ₹70000 रखी गई है। 
  • कुछ समय से विवो कंपनी नए-नए डिजाइन पर काम कर रहा है, आगे आने वाले समय में आपको विवो के स्मार्टफोन बहुत ही बेहतरीन डिजाइन वाले मिलेंगे।

FAQs:

Vivo के सबसे मेहेंगा फ़ोन

यदि अभी का बात करे तो vivo का सबसे मेहेंगा फ़ोन x70 pro+ है।

Vivo मोबाइल के अलावा और क्या क्या बनती है?

Vivo मोबाइल के अलावा Airpods बनती है इंडिया में और ज्यादा कुछ Products नहीं है।

क्या Vivo इंडिया के कंपनी है?

जी नहीं Vivo इंडिया के कंपनी नहीं है वीवो एक चाइना के कंपनी है।

यह भी पढ़े…

आज हमने क्या सीखा?

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने देखा कि Vivo कहां की कंपनी है? और Vivo कंपनी का मालिक कौन है? दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर साझा करें। 

अगर आपको विवो कंपनी के बारे में कोई भी और जानकारी चाहिए या कोई डाउट है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं, हम तुरंत कमेंट का रिप्लाई दे कर आपकी समस्या का समाधान करने की कोशिश करेंगे, मिलते हैं किसी नए आर्टिकल में। 

पोस्ट को शेयर करे:

मेरा नाम परवेज है, में एक फुल टाइम ब्लॉगर हु। मुझे लिखना और पढ़ना पसंद है साथ ही लोगो की मदद करना भी पसंद है। यदि आपको हिंदी में ब्लॉग पड़ना पसंद है तो यह ब्लॉग आपके लिए काफी मजेदार हो सकता है...

Related Posts

Leave a Comment