MMS का फुल फॉर्म – MMS Full Form in Hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सब, इस वेबसाइट में आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है, आज के आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा कि MMS क्या होता है और MMS Ka Full Form (MMS की फुल फॉर्म) क्या है?

दोस्तों आपने MMS वर्ड कई बार सुना होगा, पुराने फीचर फोन में यह सबसे ज्यादा देखने को मिलता है, आपके भी मन में यह ख्याल आया होगा, कि आखिर यह MMS होता क्या है? और MMS का रियल में मतलब क्या होता है

दोस्तों इस आर्टिकल में हम MMS के बारे में पूरी जानकारी कवर करेंगे और हर एक बात आपको डिटेल में बताएंगे, यहां पर मैं आपको बताऊंगा कि MMS का Full Form क्या है, यह कहां प्रयोग होता है, और इसके लाभ और हानियां क्या है, इसलिए आर्टिकल के साथ आखिर तक जरूर जुड़े रहिए, चलिए दोस्तों ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए जल्दी से जल्दी आर्टिकल को शुरू करते हैं।

mms-ka-full-form

MMS Full Form in Hindi

दोस्तों MMS का full form में “multimedia messaging service” कहते हैं।

और इसका हिंदी में मतलब मल्टीमीडिया संदेश सेवा है।

दोस्तों इसका यह नाम इसलिए है क्योंकि MMS मैसेजिंग सर्विस होता है, यह टेक्स्ट मैसेज से थोड़ा अलग होता है, MMS के द्वारा आप मल्टीमीडिया यानी की जीआईएफ फोटोज वगैरा भी शेयर कर सकते थे, यह पुराने समय की एक टेक्नोलॉजी है यह आज के स्मार्टफोंस में भी देखने को मिलती है लेकिन सबसे पहले फीचर फोन में इंटरड्यूज की गई थी।

MMultimedia
MMessaging
MService

MMS क्या होता है?

दोस्तों वैसे तो ज्यादातर लोग एक वीडियो क्लिप को ही MMS कहते हैं लेकिन MMS एक प्रकार की मैसेजिंग सर्विस है, जहां पर आप फोटोस वीडियोस वगैरा शेयर कर सकते हैं, लेकिन जब शुरु-शुरु में फीचर फोन ईजाद हुआ तो वहां पर टेक्स्ट मैसेज की ही सर्विस दी जाती थी, और जैसे ही कंपनियों ने MMS की सर्विस देना शुरू किया तो लोगों को यह चीज बहुत नई लगी, और उस समय में टेक्नोलॉजी इतनी ज्यादा नहीं थी, इसलिए MMS बहुत जल्दी पॉपुलर हो गया।

आज 4जी का जमाना है, आप व्हाट्सएप पर 2 मिनट की वीडियो सेकंड में भेज सकते हैं, और प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन MMS में इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं किया जाता था, शुरुआती MMS को मोबाइल नेटवर्क के द्वारा ही भेजा और प्राप्त किया जाता था, जहां पर भेजने और प्राप्त करने की स्पीड भी काफी कम होती थी, लेकिन धीरे-धीरे इसको इंटरनेट के साथ जोड़ा गया और Speed को बढ़ाया गया।

दोस्तों अगर आप MMS भेजना चाहते हैं तो अब आप इंटरनेट के जरिए बहुत आसानी से MMS भेज सकते हैं, आपके एंड्राइड मोबाइल के मैसेज बॉक्स में आपको MMS भेजने का ऑप्शन मिल जाएगा, दोस्तों आपको बता दूं कि एसएमएस मैसेज SMS से काफी अलग होता है, SMS में आप फोटो, वीडियो आदि शेयर नहीं कर सकते थे, लेकिन MMS ने फोटोस और वीडियोस को भी शेयर करना संभव कर दिया था।

MMS की लाभ और हानियां

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं, उसी प्रकार से हर चीज की लाभ और हानियां होती ही हैं, अगर कोई चीज लाभ के लिए बनाई गई है तो उसमें हानियां ऑटोमेटिकलि जुड़ जाती है, इसलिए MMS में भी कई हानियां भी है, यहां मैं आपको MMS की लाभ और हानियां दोनों के बारे में विस्तृत जानकारी दे रहा हूं, आइए दोस्तों MMS के लाभ और हानियों के बारे में देख लेते हैं।

एमएमएस के लाभ

  • दोस्तों एमएमएस अपने समय की एक एडवांस टेक्नोलॉजी थी, यहां पर आप s.m.s. के साथ फोटोस और वीडियोस भी शेयर कर सकते थे।
  • SMS की की बजाए यहां पर ट्रांसमिशन की स्पीड काफी ज्यादा रहती है, इसलिए मैसेजेस का लेनदेन बहुत जल्दी हो पाता है।
  • आपको लगभग हर प्रकार के मोबाइल में MMS की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।
  • अगर आप किसी भी स्मार्टफोन या फीचर फोन में MMS की सुविधा चाहते हैं तो आपको कोई भी अलग से एप्लीकेशन डाउनलोड करने की जरूरत नहीं पड़ेगी, आपको मोबाइल में ही MMS. की सुविधा मिल जाएगी, और वह आप वहीं से MMS भेज सकते हैं, और रिसीव भी आसानी से कर सकते हैं।
  • दोस्तों MMS भेजने के लिए अधिक इंटरनेट नहीं चाहिए होता, यह बहुत नॉर्मल स्पीड या मोबाइल टावर पर ही एसएमएस को भेज या रिसीव कर सकता है।
  • दोस्तों अगर आप MMS. भेजना चाहते हैं, तो आपको बता दूं कि यहां पर आप फोटोस और वीडियोस के साथ साथ जीआईएफ और इमोजी जैसे सैकड़ों मल्टीमीडिया आइटम्स को भी भेज और रिसीव कर सकते हैं।

MMS की हानियां

  • दोस्तों यहां पर आपको ट्रांसमिशन की स्पीड काफी स्लो मिलेगी।
  • आज के समय में mms पुरानी सुविधा हो चुकी है, आप इसकी बजाय व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम का प्रयोग कर सकते हैं।
  • MMS एप्लीकेशन का ui इतना अच्छा नहीं है, यानी की यहां पर मैसेज प्राप्त करने और भेजने का यूजर एक्सपीरियंस बाकी एप्लीकेशन के जैसा नहीं होता, क्योंकि यह एक प्रकार से अलग एप्लीकेशन नहीं होती।
  • यहां पर मैसेज भेजने में फेल होने के चांस ज्यादा होते हैं।
  • और MMS की सबसे बड़ी हानि यह है कि यहां पर किसी भी प्रकार की इंक्रिप्शन इस्तेमाल नहीं की जाती, जैसा कि आपको पता है कि व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया एप्लीकेशन पर एंड टो एंड इंक्रिप्शन का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन mms एक पुरानी टेक्नोलॉजी है, यहां पर नॉर्मल मैसेजिंग का ही प्रयोग किया जाता है।

MMS की सुविधा कौन से डिवाइसेज में मिलती है?

दोस्तों आज के समय में आपको m.m.s. की सुविधा हर प्रकार की डिवाइस में मिल जाएगी, आप चाहे तो स्मार्ट फोन में भी MMS भेज सकते हैं।

सबसे पहले MMS की शुरुआत फीचर फोंस में हुई थी, क्योंकि फीचर फोन में पहले टेक्स्ट मैसेज की ही सुविधा होती थी, जिससे लोग काफी बोर हो जाते थे, और उन्हें काफी नई चीज चाहिए होती थी, जब m.m.s. लांच हुआ तो यह लोगों के लिए एक बहुत नई चीज थी, क्योंकि अब लोग इमोजीस और जीआईएफ जैसी चीजें भेज सकते थे, आपको याद होगा कि आप नोकिया के मोबाइल में कुछ जीआईएफ देख सकते थे जो कि मैसेज के रूप में भेजे जा सकते थे, यह भी एक प्रकार का MMS ही था।

दोस्तों जिओ के आने के बाद इंटरनेट काफी सस्ता हो गया है, अब आपको MMS भेजने के लिए ज्यादा एफर्ट लगाने की जरूरत नहीं है, पहले के समय में MMS का प्राइस काफी हाई होता था, एक MMS भेजने के लिए दो से ₹3 तक चार्ज कटता था, जहां पर आप नॉर्मल मैसेज केवल ₹1 में भेज पाते थे।

अब आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप के माध्यम से भी एफएमएस आसानी से भेज सकते हैं, इसके लिए आपको कुछ एप्लीकेशंस को डाउनलोड करना होगा, कई पुराने कंप्यूटर में आज भी m.m.s. भेजने की सुविधा होती हैz जहां पर आपको कुछ भी डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है।

दोस्तों MMS का प्राइस काफी हाई होने की वजह से यह इतना पॉपुलर नहीं हुआ था, लेकिन कई प्रकार की गलत चीजों के लिए MMS का प्रयोग होने लगा था, एक समय ऐसा था जब वीडियोस को वायरल करने के लिए एमएमएस का प्रयोग किया जाता था, आप समझ ही रहे होंगे कि किस प्रकार की वीडियोस को बात हो रही हैं आपने MMS नाम से फिल्म भी देखी होगी।

MMS का फुल फॉर्म वीडियो में जाने –

MMS का फुल फॉर्म FAQs;

MMS Full Form in Hindi

MMS का हिंदी में फुल फॉर्म “मल्टीमीडिया संदेश सेवा” है।

MMS Full Form in English

MMS English Full Form – “multimedia messaging service”

MMS का काम क्या है?

MMS की मदद से आप 40 Sec के वीडियो भेज सकते है किसी भी नंबर पर। सिर्फ वीडियो नहीं आप फोटो भी भेज सकते है।

SMS और MMS में क्या अंतर है?

SMS में हम सिर्फ टेक्स्ट मैसेज भेज सकते है, लेकिन MMS में आप Video, Image भेज सकते है।

SMS का फुल फॉर्म क्या है?

SMS का फुल फॉर्म short message service है।

यह पोस्ट भी पढ़े…

आज हमने क्या सीखा?

दोस्तों इस आर्टिकल में मैंने बात की कि MMS full form in hindi क्या है? इस आर्टिकल में मैंने आपको एम एम एस की शुरुआत और अब तक के पूरे सफर के बारे में बताया है और यहां पर आपको एम एम एस की लाभ और हानियों के बारे में भी अवगत कराया है।

अगर कोई जानकारी रह गई है या आपका कोई क्वेश्चन है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं, मैं आपके क्वेश्चन का जल्दी से जल्दी आंसर देने की कोशिश करूंगा।

आशा करूंगा कि यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा, और आप अपने करीबी साथियों के साथ इसे साझा करेंगे।

मिलते हैं किसी आगामी आर्टिकल में नई जानकारी के साथ।

पोस्ट को शेयर करे:

मेरा नाम परवेज है, में एक फुल टाइम ब्लॉगर हु। मुझे लिखना और पढ़ना पसंद है साथ ही लोगो की मदद करना भी पसंद है। यदि आपको हिंदी में ब्लॉग पड़ना पसंद है तो यह ब्लॉग आपके लिए काफी मजेदार हो सकता है...

Related Posts

Leave a Comment